Flash Sale! to get a free eCookbook with our top 25 recipes.

उन गलतियों को ना करें जो मैंने अपनी प्रथम यात्रा के शुभारम्भ पर की थीं-भाग 1

जीवन में यात्रा एकमात्र सतत वस्तु है

उड़ान व अकेले यात्रा करने के डर से निजात पाना, दिल टूटने के डर या किसी के खोने के ग़म को भुलाना, पूर्णतः की चाह को खोजना; ये सभी कारण हैं कि हम यात्रा करते हैं। कुछ के लिए यात्रा किसी जगह, किसी व्यक्ति या किसी भावना से पार पाने का ज़रिया है तो कुछ लोगों के लिए यात्रा का मतलब कुछ पाना है जैसे कि शान्ति अकेलापन और यहाँ तक कि स्वयं को भी। कारण चाहे कुछ भी हो वातावरण में हुआ एक बदलाव हमारी काफ़ी मदद करता है।


प्रवास और शुभारंभ

हम सभी ने अपने जीवन में नए स्थानों को खोजने की यात्रा अलग अलग समय में प्रारंभ की है। कुछ लोगों ने घर से बहुत दूर जाकर यात्रा की शुरुआत की है तो कुछ ने यात्रा की शुरुआत उन स्थानों से की है जोकि दूर ना होकर पास हैं। हमने बहुत से लोगों को ये कहते हुए सुना है कि यात्रा उन्हें भयभीत करती है और हमें उनसे उनकी इस बात पर सहानुभूति भी है क्योंकि चाहे हम इसे पसंद करें या न करें, यात्रा हमें भयभीत कराती ही है। लेकिन इस बात का डर कि कैसे अपनी यात्रा की योजना बनानी है या बाहर की ओर एक क़दम रखना है, आपको दुनिया की सैर करने से कभी नहीं रोक सकता है।

हमें महसूस होता है कि कभी कभी लोगों को बाहर ले जाने के लिए एक प्रेरणा की ज़रूरत होती है। इसलिए यह लेख उन लोगों को समर्पित है जो अपनी यात्रा की शुरुआत कर रहे हैं और उन गलतियों से बचना चाहते हैं जो हम दीर्घकालिक मुसाफ़िरों ने प्रारंभ में की थी।


हमारे पास आपकी यात्रा के लिए मुख्य पाँच सुझाव हैं

दिल खोलकर अपनी फ़ोटो लें

यात्रा के लिए सबसे महत्वपूर्ण सुझाव जो हमारे पास है वह यही है कि दिल खोलकर स्वयं के फ़ोटो लिए जाएँ।एक सैलानी होने के नाते, हमारा ध्यान उन वस्तुओं पर केंद्रित होता है जो हमारे सामने होती हैं; एक सुंदर बर्फ़ से ढकी पर्वत श्रृंखला, बड़ा नीला महासागर या यहाँ तक कि एक जंगल भी।

हालाँकि आप उस जगह और पर्यटन स्थल को निश्चित रूप से याद रखोगे लेकिन आपको यह याद नहीं रहेगा कि आप वहाँ कैसा महसूस कर रहे थे, आपने वहाँ क्या पहना था और उन कपड़ों में आप कैसे दिख रहे थे क्योंकि आप तो उन तस्वीरों में थे ही नहीं है!


कुछ साधारण विदेशी शब्दों और कहावतों को सीखें

जब आप विदेश की यात्रा पर जा रहे होते हैं तो कोई भी या यूँ कहें प्रत्येक पर्यटक आपको यह सुझाव अवश्य देगा कि आप एक नई भाषा अर्थात् वहाँ की भाषा को सीखें या कम से कम उस भाषा की महत्वपूर्ण कहावतों को तो अवश्य सीखें।ऐसा करके आप सिर्फ़ एक नई भाषा ही नहीं सीखेंगे बल्कि वहाँ के क्षेत्रीय लोगों से मिलने जुलने में भी सक्षम होंगे।


आपातकालीन धन

हम अक्सर ये सोचते हैं कि हमारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड मुश्किल वक़्त में हमारी मदद करेगा लेकिन कई अवसरों पर जैसे जब आप सुदूरवर्ती या विदेश की यात्रा पर होते हैं तो आपके कार्ड के जाम होने अर्थात कार्य न करने के ख़तरे बढ़ जाते हैं।अतः यह एक महत्वपूर्ण यात्रा संबंधी सुझाव है कि आप कुछ आपातकालीन धन को अपने जूतों या मोज़ों में संभाल कर अवश्य रखें। आप नहीं जानते कि कब आपको इनकी आवश्यकता पड़ जाएगी।


यात्रा को केवल यात्रा के लिए ही प्लान न करें

एक और लाजवाब सुझाव! अक्सर हमारे पास यात्रा के लिए कुछ सीमित दिन ही होते हैं और हम अपनी ज़्यादा से ज़्यादा यात्रा इन्हीं दिनों में पूरी करना चाहते हैं। तो हमें किस चीज़ को ख़त्म करना है? हमें अपने दिनों को इस तरह योजनाबद्ध करना है कि हम ज़्यादा से ज़्यादा दृश्यावलोकन कर सकें और अंत में अपनी थकान को कुछ चमत्कारिक तरीक़ों से मिटाएँ। दिन के कुछ घंटों को मुक्त या फ़्री रखें। इस समय को किसी पेड़ के नीचे कोई पुस्तक पढ़ते हुए या यूं ही बैठकर प्रकृति की सुंदरता को निहारने में बिताएँ। आप अपने समय को जितना योजनाबद्ध करेंगे, उतना बेहतर ही अपनी यात्रा को याद रखने में सक्षम होंगे।


आप जहाँ की यात्रा कर रहे हैं, वहाँ की पर्याप्त जानकारी न मिल पाने पर परेशान न हों

जब भी आप निर्जन स्थानों या ऐसे देशों की यात्रा कर रहे होते हैं जहाँ कम पर्यटक आते हैं तो आपको इस बात के लिए तैयार रहना चाहिए कि आप जितनी जानकारी की आशा कर रहे हैं उतनी पाने में असक्षम हो सकते हैं।

ये उन स्थानों के साथ होता है जहाँ कम पर्यटक आते हैं या जो अभी भी निर्जन हैं। हम यहाँ ये बताना चाहते हैं कि ये स्थान आपकी यात्रा के लिए बिलकुल सही हैं क्योंकि अगर आप इन निर्जन स्थानों की यात्रा करते हैं तो हो सकता है कि आपके ऊपर इन स्थानों को पहली बार खोजने का तमग़ा लग जाए।