Flash Sale! to get a free eCookbook with our top 25 recipes.

नंदा देवी शिखर पर पर्वतारोही हिमस्खलन की चपेट में आए देखें अंतिम क्षणों का दृश्य

यह दिल दहलाने वाला दृश्य उन 8 पर्वतारोहियों के आखिरी पलों का है जो उत्तराखंड के नंदा देवी की चोटी में मारे गए! यह दृश्य मई का है जिसमें दिखाया जा रहा है कि कैसे तेज बहाव के कारण 8 पर्वतारोहियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा! लगभग 2 मिनट की इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे पर्वतारोही एक रस्सी की मदद से कतार में एक के बाद एक आगे बढ़ रहे हैं !वीडियो में पहाड़ी का सारा सुंदर नजारा दिखाया जा रहा है !

इस वीडियो को कतार के सबसे आखिरी पर्वतारोही ने बनाया है जो ना सिर्फ अपनी टीम के सफर को कैद कर रहा है बल्कि साथ ही साथ उस सुंदर नजारे को भी कैद कर रहा है जिसमें सूरज की किरने बर्फ पर पड़ रही हैं!

पर यह नजारा ज्यादा देर तक देखने को नहीं मिलता और वीडियो खत्म हो जाती है एक  मौत के संदेश के साथ!!!!


आइटीबीपी अधिकारियों के द्वारा दी गई जानकारी :

आइटीबीपी अधिकारियों का कहना है कि यह आवाज  हिमस्खलन की है जो  पर्वतारोहियों की मौत का कारण बनी !कैमरा वही 7 शव के पास पड़ा मिला 


आईटीबीपी डीआईजी ए पी एस लिंबाडिया ने कहा यह वीडियो आखिरी सबूत है!


हिम्मत भरा कार्य पर्वतारोही 25 मई से लापता थे जिसमें से आईटीबीपी ने सात की खोज 19000 फीट नीचे सत पर 3 जुलाई को पूरी की!


मुश्किल कार्य सफल :   

इस मुश्किल कार्य को माउंटेन वार फेयर ट्रेंड फोर्स जिसका कोड नेम डेयरडेविल्स है 500 घंटे यानी 15 दिन की कड़ी मेहनत के बाद आखिरकार सफल बना ही दिया!


15 ऑफिसर्स को मिला इनाम : 

इस वीडियो को तिब्बतन बॉर्डर पुलिस ने पेश किया जिसमें टीम के उन 15 लोगों को जिन्होंने साथ लाश का पता लगाया सम्मानित किया गया !आइटीबीपी डीजी एसएस देशवाल ने इनाम में उन लोगों को ₹20,000 दिए!


टीम:

टीम के 7 लोग यूके ,ऑस्ट्रेलिया और यूएसए से थे लाइजन ऑफिसर को हटाकर ,वह इंडियन माउंटेनियरिंग फाउंडेशन से थे!