Flash Sale! to get a free eCookbook with our top 25 recipes.

पानी और मिट्टी के सौंदर्य का मिश्रण : समुद्र तट

Beach_scoutripper

अपनी आँखे बंद करके कल्पना कीजिए कि आप महासागरीय किनारे के बजाय किसी अच्छी गर्म बालु पर लेटे हुए हैं। जब आप लहरों को नावों के विपरीत और साथ में बहते हुए सुनते हैं तो धीरे धीरे सारी चीज़ें आपके मस्तिष्क से निकलने लगती हैं। वास्तव इस चीज़ से बेहतर कोई वस्तु है ही नहीं।

समुद्रप्रेमी बीच का महत्व जानते हैं कि वास्तव में ये है क्या। इसकी ख़ूबसूरती कई भागों में बंटी हुई है और इसकी ख़ूबसूरती दिन के साथ बदलती रहती है। तो यहाँ बीच के बारे में कुछ अनकही जानकारियां दी गई हैं, आइए शुरुआत करें।

उगते सूरज वाला बीच या सूर्योदय बीच

उगता हुआ सूरज एक प्राकृतिक सौंदर्य हैं और अगर ये दृश्य बीच पर दिखाई दे जाए तो यह ख़ुशमिज़ाजी का एक अच्छा कारण बन जाता है। पहले-पहल तो क्षितिज पर एक छोटा सा बॉल दिखाई देता है। धीरे धीरे ये बादलों की ओट से बाहर निकलता है और आकार में बढ़ने लगता है। आप बस इसकी तरफ़ देखिए। पक्षियों की चहचहाहट इस पूरे दृश्य को और मनमोहक बना देती है। समुद्र की लहरें नरमी से ज़मीन पर आकर उसका चुम्बन करती हैं और आपको भी ऐसा महसूस होगा कि वे आपका भी चुम्बन कर रही हैं।

आप समुद्र की तरफ़ बढ़ते हैं और अपनी सभी ज्ञानेन्द्रियों को प्रकृति पर छोड़ देते हैं और अपना ध्यान आसमान पर केंद्रित करते हैं। वो फ़ल जिसके पकने का आप का इंतज़ार कर रहे हैं वो पकना शुरू हो जाता है और एक ख़ूबसूरत सुनहरे कलर में बदल जाता है। इसकी गरमा-गरम किरणें आपके शरीर पर पड़ते ही आपको इसका दीवाना बना देती हैं। ये दृश्य आपके रोंगटे खड़े कर देगा और कुछ पलों के लिए आप सब कुछ भूल जाएँगें।

सूर्यास्त बीच

शान्ति-निस्तब्धता-तृप्ति, इन तीनों चीज़ों का मिश्रण एक ऐसी बेमेल भावना उत्पन्न करती है जो मुझे बहुत ख़ुश कर देती है तब जबकि मैं बीच पर होता हूँ और आती जाती लहरों के मनोरंजक खेल को देख रहा होता हूँ। मुझे महसूस होता है कि मैं बीच पर अकेला हूं, ख़ुद को सूर्यास्त का आनंद लेने की इजाज़त देता हूँ और वो भी बिना किसी परेशानी या रुकावट के। सूरज, एक आग का गोला, ऐसा दिखाई देता है कि मानो यह धीरे धीरे पानी के अंदर बढ़ रहा हो। आसमान में कई रंगों के शेड्स लाल, ऑरेंज और पीले रंगों के मिश्रण के रूप में बिखर जाते हैं।नीचे पानी इन रंगों का परावर्तन प्रस्तुत करता है।

लहरें सिंदूरी रंग में रंगी हुई दिखाई देती हैं जिसके साथ नीले कलर की धारियाँ टकराती हुई रहती हैं। मेरे पैरों के नीचे मौजूद रेत का कलर भी कुछ ऐसा ही दिखाई देता है जो मुझे ये एहसास कराता है कि मैं काफ़ी बहादुरी और साहस के साथ आग पर चल रहा हूँ। काले पानी और चमकीले आसमान के मेल के बीच में उत्पन्न अंतर ऐसा दृश्य प्रस्तुत करता है कि मानो क्षितिज पर दो जाने और अंजाने संसार एक दूसरे से मिल रहे हैं। ये दिल थाम लेने की हद तक ख़ूबसूरत है, और जब मैं इस शानदार दृश्य के सामने खड़ा होता हूँ तो मैं बिलकुल नि:शब्द हो जाता हूँ।

संसार के पाँच सबसे सुंदर बीच

1. हॉर्स शू बे, बरमूडा

यद्यपि ये इस आइलैंड पर स्थित सबसे लोकप्रिय बीच है, लेकिन इसके बावजूद हॉर्स शू बे का एक रहस्य है, पोर्ट रॉयल कव में छोटे बच्चों के लिए कम पानी की पर्फेक्ट मात्रा विद्यमान् है और यहाँ पर चट्टानों के असाधारण निर्माण से मुलायम गुलाबी रेत की उत्पत्ति होती है। पास में ही मौजूद स्पाइस लैंड इक्वेसट्राईन सेंटर प्राइवेट कव हेतु राइड्स भी ऑफ़र करता है, और ये साउथशोर पार्क का ही एक हिस्सा है जो कि साउथएम्टन पेरिश में स्थित है।

2. हार्बर आइलैंड, बहामास

इल्यूथेरा आयरलैंड के उत्तरी तट पर स्थित और बहामास के अन्य बीचों से दूर, इस बीच पर परिवार और जोड़े दोनों ही गुलाबी रेत पर एक अच्छा समय बिता सकते हैं और यहाँ पर मात्र चंद एक लोग ही देखे जाते हैं। धूप सेकने और ताड़ के वृक्षों से सरसराती हवा के द्वारा बजने वाला प्रेमगीत सुनने के बाद, पर्यटक निराली डनमोर गली में टहल सकते हैं, दिन की ताज़ी हवा में खाना खा सकते हैं और शाम के साये में बैठकर आनंद से सूर्यास्त का मज़ा ले सकते हैं।

3. पैरट के, टर्कस् और कैकोस

एक कारण है कि ब्रूस विलिस और डोना कैरन जैसे सितारों ने अपना वैकेशन होम इस आइलैंड पर बनवाया है, 1000 एकड़ में फैला हुआ ये प्राइवेट आइलैंड प्रोवाइडेनशियल्स से मात्र पैंतीस मिनट की बोट राइड की दूरी पर स्थित है, और लग्ज़री रिज़ॉर्ट का एक मुख्य केंद्र है, जैसा कि आप नीचे देख सकते हैं, आपको यहॉं प्राइवेट फ़ॉर्म हाउस भी दिखेंगे। हाँ, आपकी संपूर्ण छट्टियाँ बिना किसी एक बंदे को देखे हुए गुज़र जाएँगीं।

4. वाइपियो वैली बीच, बिग आईलैण्ड, हवाई

हवाई में स्थित ये बीच, वाइपियो वैली बीच, पर पहुँचना सबसे मुश्किल कामों में से एक है, इस बीच तक पहुँचने के लिए आपको पैदल चलना होता है या फिर भी पतली जोखिम से भरपूर ढलान वाली सड़क पर ड्राइविंग करनी होती है। लेकिन ट्रैक की एक ख़ास बात है, आख़िर में, आपको मीलों तक ज्वालामुखी की काली रेत 2000 फुट के क्लिफ वॉल्स के बॉर्डर लाइन के रूप में देखने को मिलेगी जिसके साथ में घने रेनफॉरेस्ट भी हैं। अगर इतना काफ़ी नहीं है, तो हम आपको बता दें कि कालूहाइन और वाइउलाई झरने बीच पर स्थित क्लिफ़ के दक्षिणी अंत को काटते हुए निकलते हैं और हमें इन पर पहुँचने के लिए बिखरे कंकरों के साथ सर्फ करना होता है।

5. ट्रंक बे, सेंट जॉन, यूएसवीआई

इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि यह बीच कैरेबियन बीचेस में से सबसे ज़्यादा फ़ोटोग्राफ़िक बीच है, हालाँकि ये संसार में इस उपाधि को नहीं ग्रहण करता है, लेकिन ट्रंक बे को वर्जिन आइलैंड नेशनल पार्क के उत्तरी पश्चिमी कोने का सबसे अच्छा भाग माना जाता है (ये लगभग 50 वर्षों से भी अधिक पहले लॉरेंस एस रॉकफ़ेलर के द्वारा पार्क सर्विस को प्रदान कर दिया गया था।) एक लंबा गोता लगाने के लिए साफ़, स्वच्छ, 225 यार्ड लंबा गहरा पानी, हाइकिंग चारों तरफ़ मौजूद हरे भरे ऐतिहासिक गन्ने के खेतों की ऊपर से होकर गुज़रती है।

भारत में स्थित तीन उत्तम बीच

1. अंडमान आइलैंड्स

अंडमान आइलैंड्स धरती पर बसने वाले सबसे ख़ूबसूरत स्थानों में से एक है जहाँ पर आप भ्रमण कर सकते हैं। इसकी दीप्तिमान छवि के कारण, आप प्राकृतिक रूप से देख सकते हैं कि हर साल हज़ारों टूरिस्ट और यात्री इस आइलैंड पर जाते हैं। अंडमान के आकर्षण का एक बड़ा भाग इस पर मौजूद बीचेस के कारण आता है। इस आइलैंड पर और पोर्ट ब्लेयर के चारों तरफ़ आप बेस्ट बीचेस का भंडार देख सकते हैं।

2. गोवा बीच

गोवा में एक बड़ी संख्या में स्थित बीचेस हर किसी को कुछ न कुछ ऑफ़र करते हैं, लग्ज़री रिजॉर्ट्स से लेकर अस्थाई झोपड़ियां और धमाकेदार पार्टीज़ से लेकर शांतिचित्ता तक की हर चीज़ आपको गोवा के बीचेस पर मिलेगी। कौन सा बीच आपके लिए सबसे अच्छा है ये इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस तरह का अनुभव प्राप्त करना चाहते हैं। कुछ बीचेस के नाम इस तरह हैं: अगोंडा, बागा और कैलेन्ग्यूट, कैंडोलिम और सिन्क्वेरिम आदि।

3. दिघा सी बीच

दिघा कलकत्ता से 183.2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। ये बीच पूरे बंगाल भर में प्रसिद्ध है। कलकत्ता से ना सिर्फ़ रेल की ही सेवा उपलब्ध है बल्कि इस बीच के लिए बस की सेवा, कार की सेवा इत्यादि भी उपलब्ध हैं। अगर आप समय की बात करें, तो ट्रेन से इस बीच पर पहुँचने में लगभग साढ़े तीन घंटे का समय लगता है और दिघा पर बस के द्वारा तीन घंटे में पहुँचा जा सकता है।

दिघा पर मुख्य रूप से पाँच प्रकार के मौसम होते हैं, जिनमें से गर्मी, मॉनसून, पतझड़, सर्दी और बसंत मुख्य हैं।गर्मी का मौसम अप्रैल के महीने से शुरू होकर जून के महीने तक ख़त्म होता है और इस समय यहाँ का तापमान लगभग 37० सेल्सियस (99० फॉरेनहाइट) तक रहता है। हालाँकि इतना तापमान होने के बावजूद भी समुद्र की तरफ़ से आने वाली ठंडी हवाएँ यहाँ का मौसम काफ़ी ख़ूबसूरत रखती हैं। अगला महीना मॉनसून जुलाई से शुरू होता है और सितंबर के आख़िर तक रहता है। दिघा में बारिश एवरेज मात्रा में होती है लेकिन यहाँ पर मॉनसून के मौसम में नमी अत्यधिक पाई जाती है। पतझड़ का मौसम अक्टूबर से शुरू होता है और दिसंबर के मध्य तक रहता है और इस दौरान यहाँ का तापमान लगभग 25० सेल्सियस तक होता है।